अपनी दुनिया को बदलो – पास्टर स्टीफ़न पिंटो

परमेश्वर के वचन पर आदरित हम वचन के अनुसार सकारात्मक बोलने से हमारी उन्नति होती है ,सिर्फ हमारी ही नहीं लेखिन सुननेवाले परबि इसका असर होता है ,क्योकि यीशु ने कहा ” मेरा वचन आत्मा और जीवन है” 1

जीवन और मरण हमारी ज़बानो पर होता हैं ,और जो इसे आज़माते हैं उसी तरह का फल लेकर आते हैं 1 जो हम अपने मन में सोचते हैं वही हम बनते भी हैं 1 इसीलिए बोलने से पहले सोचे की हम क्या बोलने जा रहें हैं 1